यात्रायें यात्रायें

विदेश मंत्री का बांग्लादेश के विदेश मंत्री के साथ ढाका में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में संबोधन

मार्च 04, 2021

महामहिम डॉ मोमेन,

बांग्लादेश मीडिया के दोस्तों,


मुझे लगभग डेढ़ वर्ष के अंतराल के बाद बांग्लादेश क दौरा करते हुए प्रसन्नता हो रही है। डॉ मोमेन मुझे वास्तविक प्रसन्नता हो रही है की आज आप के साथ हूँ तथा मैं कह सकता हूं आपका निमंत्रण सर्वाधिक समय पर था।

जैसा कि आप सभी जानते हैं, हम अपने प्रधानमंत्री की सुनियोजित दौरा की तैयारी करने के लिए कार्य कर रहे हैं। यह निश्चित रूप से एक बहुत ही यादगार दौरा होगा: यदि मुझे सही याद है तो यह कोरोनावायरस महामारी के बाद से भारत के बाहर उनका पहला दौरा होगा तथा प्रधानमंत्री के रूप में यह उनका दूसरा बांग्लादेश दौरा होगा।

हम जानते हैं कि यह आपके लिए बहुत ही विशेष वर्ष है, जब दोनों देश मुजीबबारशो, बांग्लादेश की मुक्ति के 50 वर्ष तथा हमारे द्विपक्षीय संबंधों के ५० वर्षों को चिह्नित करते हैं।

ये वास्तव में इन तीन वर्षगांठों तथा आपके प्रधानमंत्री शेख हसीना और बांग्लादेश के लिए हम सभी के पास जो भारी सम्मान है उसके महत्व को रेखांकित करते हैं। हमारे संबंध वास्तव में हमारी रणनीतिक साझेदारी से भी परे हैं, तथा मेरा मानना है कि हमारा संबंध शांतिपूर्ण, समृद्ध तथा प्रगतिशील दक्षिण एशिया के सपने को साकार करने के लिए केंद्रीय है। यह इस दृष्टिकोण की खोज में है कि दोनों पक्षों ने हमारे संबंधों में उल्लेखनीय प्रगति की है, विशेष रूप से मई 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पद ग्रहण करने के बाद से।

बांग्लादेश के साथ हमारे संबंधों का महत्व आपकी केंद्रीयता, विशिष्टता, हमारी 'पड़ोसी प्रथम' नीति तथा हमारी 'एक्ट ईस्ट' नीति के लिए आपकी बढ़ती प्रासंगिकता में निहित है। हम बांग्लादेश को न केवल दक्षिण एशिया में बल्कि व्यापक हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भी एक प्रमुख पड़ोसी देश तथा एक मूल्यवान साझेदार के रूप में देखते हैं। हमारे संबंधों में हर परिणाम तथा उपलब्धि इस क्षेत्र के माध्यम से प्रतिध्वनित होती है। यह कोई रहस्य नहीं है कि हम इसे अनुकरण करने के लिए एक उदाहरण के रूप में दूसरों को उद्धृत करते हैं ।

और यही कारण है कि हम सुरक्षा, व्यापार, परिवहन तथा कनेक्टिविटी, संस्कृति, लोगों से लोगों के बीच संबंधों, ऊर्जा, हमारे साझा संसाधनों तथा रक्षा के संयुक्त विकास से लेकर सभी आयामों में अपने संबंधों का विस्तार करने के लिए इतनी मेहनत कर रहे हैं। हम अब ऐसे आरामदायक स्थिति में है कि हमने यह दर्शाया है कि ऐसा कोई मुद्दा नहीं है जिस पर हम सौहार्दपूर्ण बातचीत के माध्यम से चर्चा तथा समाधान नहीं कर सकते ।

यह संतुष्टि की बात है कि कोविड महामारी के बावजूद हमारी बातचीत तथा परामर्श निरंतर जारी रहे। हमने पिछले वर्ष दिसंबर में वर्चुअल शिखर सम्मेलन किया था, एक संयुक्त परामर्शदात्री आयोग, जो हम दोनों ने सितंबर में किया था, विदेश सचिवों, ऊर्जा सचिवों, गृह सचिवों, पुलिस प्रमुखों, बीएसएफ-बीजीबी तथा रक्षा से संबंधित दौरा तथा बैठकें की थीं। हमारे वाणिज्य, जल संसाधन तथा जहाजरानी सचिवों की जल्द ही बैठक होने वाली है। यह दोनों पक्षों की संबंधों को प्रगति करने की प्रतिबद्धता को दर्शाता है ।

यहां तक कि महामारी ने वास्तव में हमारी मित्रता की पुष्टि करने का अवसर प्रदान किया है। बांग्लादेश भारत निर्मित टीकों का सबसे बड़ा प्राप्तकर्ता है। इसके अलावा मित्रता के लिए 20 लाख टीकों का हमारा सबसे बड़ा उपहार है, जो वास्तव में यह उचित है कि यह बांग्लादेश के लिए है ।

हमारी हाल की गतिविधियाँ जो की परामर्श तथा भाव प्रदर्शन से परे है, चाहे वह कितना भी महत्वपूर्ण क्यों न हो। हमने जमीनी स्तर पर व्यावहारिक प्रगति की है। चट्टोग्राम बंदरगाह से अगरतला तक कंटेनर कार्गो का परीक्षण करना, त्रिपुरा को अपने राष्ट्रीय जलमार्गों से जोड़ने वाले अंतर्देशीय जलमार्गों में दो नए प्रोटोकॉल मार्गों को जोड़ना, 10 बीजी इंजनों को सौंपना, कंटेनर और पार्सल ट्रेनों की आवाजाही शुरू करना और ऊर्जा क्षेत्र में एक संयुक्त उद्यम बनाना। इसके साथ कुछ हालिया उदाहरण भी हैं।

मैं अपने निकटतम पड़ोसी देश तथा मित्र के रूप में एलडीसी दर्जे से बांग्लादेश की क्रमिक वृद्धि में अपनी प्रशंसा तथा गर्व व्यक्त करना चाहूंगा: यह वास्तव में आपकी चमत्कारी सामाजिक-आर्थिक प्रगति के लिए एक सम्मान है, और प्रधानमंत्री शेख हसीना की राजनीतिज्ञता तथा नेतृत्व का परिचायक है ।

मैं बांग्लादेश में अपने सभी मित्रों को प्रमुख वर्षगाठों को मनाने के लिए शुभकामनाएं देते हुए अपनी बात समाप्त करता हूं। आपके सभी सपने सच हो तथा मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूं कि भारत हमेशा आपके पक्ष में एक विश्वसनीय मित्र के रूप में रहेगा। इस 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड में आपकी मार्चिंग टुकड़ी हमारे साझा इतिहास की पुष्टि करता है। लेकिन मैं यह भी कह सकता हूं कि यह हमारी गहरी एकजुटता की अभिव्यक्ति है जो हमेशा इस रिश्ते का मार्गदर्शन करेगी।

ध्यान देने के लिए आपका धन्यवाद।


Page Feedback

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code