मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

प्रधानमंत्री और नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली ने संयुक्त रूप से जोगबनी-बिराटनगर में एकीकृत चेक पोस्ट का उद्घाटन किया

जनवरी 21, 2020

प्रधानमंत्री, श्री नरेंद्र मोदी, नेपाल के प्रधानमंत्री श्री के.पी. शर्मा ओली ने संयुक्त रूप से आज जोगबनी - बिराटनगर में दूसरे एकीकृत चेक पोस्ट (आईसीपी) का उद्घाटन किया।

जोगबनी - बिराटनगर दोनों देशों के बीच एक महत्वपूर्ण व्यापार बिंदु है। आई .सी .पी . आधुनिक सुविधाओं से लैस है।

जोगबनी - बिराटनगर में दूसरा एकीकृत चेक पोस्ट भारत-नेपाल सीमा पर व्यापार तथा लोगों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने हेतु भारत की सहायता से बनाया गया था।

दोनों प्रधानमंत्रियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से उद्घाटन में भाग लिया।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपनी टिप्पणी में कहा कि, "भारत नेपाल के सर्वांगीण विकास में विश्वसनीय भागीदार की भूमिका निभा रहा है।"

उन्होंने कहा, "पड़ोसी पहले, मेरी सरकार की मुख्य नीति है और सीमा पार कनेक्टिविटी में सुधार करना इसका एक महत्वपूर्ण पहलू है।"

श्री मोदी ने कहा, "अगर बात भारत-नेपाल की बात आती है तो बेहतर कनेक्टिविटी का मुद्दा और अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है, क्योंकि हमारे संबंध केवल पड़ोसियों के नहीं हैं, बल्कि इतिहास और भूगोल ने हमें संस्कृति, प्रकृति, परिवारों, भाषा, विकास और कई माध्यमों से जोड़ा है।”

प्रधानमंत्री ने कहा, "मेरी सरकार सभी मित्र देशों के साथ बेहतर परिवहन सुविधा विकसित करने और व्यापार, संस्कृति, शिक्षा आदि में संबंधों को और विकसित करने हेतु प्रतिबद्ध है"

प्रधामंत्री ने कहा कि भारत नेपाल में क्रॉस कनेक्टिविटी परियोजनाओं रोड, रेल और ट्रांसमिशन लाइनों पर काम कर रहा है।

दोनों प्रधानमंत्रियों ने भारत सरकार की नेपाल में भूकंप के बाद के आवास पुनर्निर्माण परियोजनाओं की सहायता में उल्लेखनीय प्रगति की बात की।

नेपाल में 2015 के भूकंप का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा, "भारत ने राहत और बचाव कार्यों में पहले उत्तरदाता की भूमिका निभाई और अब नेपाल के पुनर्निर्माण में अपने दोस्त के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहा है।"

गोरखा और नुवाकोट जिलों में 50,000 घरों के निर्माण की भारत सरकार की प्रतिबद्धता में से, 45,000 घरों का निर्माण पूरा हो चुका है।

नेपाल के प्रधानमंत्री श्री के .पी . शर्मा ओली ने भारत के प्रयासों के लिए धन्यवाद दिया।

नई दिल्ली
जनवरी 21, 2020
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code